Trending News
दिन की शुरुआत करने से पहले राशिफल पर डालें एक नज़र | रोज सुबह खाएं 4-5 बादाम, होंगे फायदे ही फायदे | जब बुलेटिन शुरु होने से पहले आपस में ही लड़ने लगे ये एंकर्स, अब वायरल हो रहा ये मजेदार वीडियो | सुष्मिता सेन ने इस अनोखे अंदाज में दी श्रीदेवी को श्रद्धांजलि, बेटियों को लेकर कही ये बात | मोदी ने कहा – इस्लामिक विरासत पर हमें गर्व है, आतंक के खिलाफ मुहिम किसी धर्म के खिलाफ नहीं | अलविदा चांदनी… राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुईं श्रीदेवी | ओवैसी का भड़काऊ बयान, बोले – मस्जिद जहां थी, वहीं बनेगी… नहीं छोड़ेंगे दावा | शुरू हुई 2019 के चुनाव की तैयारी, मेरठ में आरएसएस के समागम में उमड़ा स्वयंसेवकों का सैलाब | अपनी चमक बिखेर कर हमेशा के लिए चली गई ‘चाँदनी’, शोक में डूबा पूरा बॉलीवुड जगत | #INDvsSA Final T20 : भुवनेश्‍वर के कमाल से भारत ने अफ्रीका को 7 रन से रौंदा, जीती सीरीज़   | 5 रुपये के सेंधा नमक में छिपा है खूबसूरती का पिटारा, इसे इस्तेमाल करने के बाद सबकुछ भूल जाएंगी आप | … तो इसलिए शरीर के निचले हिस्सों में नहीं पहना जाता सोना |

9 साल के बच्चे पर तेंदुए ने किया हमला, मां और दादी ने इस तरह बचाई जान

देहरादून। उत्तराखंड के गरुड़ तहसील के वज्यूला क्षेत्र में एक बार फिर तेंदुए ने आतंक मचा दिया है। इस बार तेंदुए ने गुरुवार की रात्रि एक बालक पर हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया। बालक अस्पताल में भर्ती है, उसका इलाज चल रहा है। आरको बताते चले कि गड़खेत वन क्षेत्र के छटिया गांव निवासी विजय गिरी (9 वर्ष) पुत्र राजेंद्र गिरी गुरुवार की रात्रि शौच करने बाहर आया था। साथ में उसकी दादी भी थी। तभी घात लगाए तेंदुए ने उस पर हमला कर उसे घायल कर दिया।

तेंदुआ बालक को घसीटते हुए ले जा रहा था। तभी उसकी मां और दादी जोर-जोर से चिल्लाने लगे। उनकी आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीण एकत्र हो गए। उन्होंने भी शोर मचाया। आवाज सुनकर तेंदुआ बालक को छोड़कर भाग गया। तेंदुए के हमले में बालक घायल हो गया। ग्रामीण तत्काल घायल विजय को सीएचसी बैजनाथ लाए, जहां उसका इलाज चल रहा है।

तेंदुए को लेकर अभी भी क्षेत्र में दहशत का मौहौल है। वज्यूला के जिला पंचायत सदस्य जितेंद्र मेहता ने बताया कि वज्यूला क्षेत्र के कई गावों में इन दिनों तेंदुए की दहाड़ रात-दिन सुनाई दे रही है। लेकिन वन विभाग कोई कदम नहीं उठा रहा है। उन्होंने वन विभाग से तत्काल घायल को मुआवजा देने और छटिया गांव समेत आसपास के गावों में पिंजड़ा लगाने की मांग की है। इधर घटना की सूचना मिलते ही शुक्रवार को वन क्षेत्राधिकारी आरएस रमोला ने छटिया गांव का दौरा किया और घायल के परिवार को हर सम्भव सहायता का आश्वासन दिया।

loading...

Related Posts